छठ पूजा पर निबंध 10 लाइन | 10 Lines on Chhath Puja in Hindi

छठ पूजा हिन्दुओं का एक बहुत ही पवित्र और मुख्य पर्व है। छठ पर्व कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष के षष्ठी के दिन पड़ता है। ये पर्व चार दिनों तक चलता है। छठ का महापर्व मुख्य तौर पर बिहार, झारखण्ड, और उत्तरप्रदेश जैसे भारतीय राज्यों में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है छठ पूजा के दिन भगवान सूर्य और छठी माता की विशेष पूजा आराधना की जाती है।

दिवाली पर्व के समापन बाद ही छठ के गीतों की गूंज होने लगती है। छठ पर्व को लोक आस्था का महापर्व के तौर पर भी जाना जाता है। और इसे बहुत ही श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। चलिए आज ये पर्व छठ पूजा (Chhath Puja) को हम छठ पूजा पर निबंध 10 लाइन के माध्यम से जानते है।

10 lines on chhath puja in hindi
10 lines on chhath puja in hindi

छठ पूजा पर निबंध 10 लाइन (10 Lines on Chhath Puja)

1. छठ पूजा हिन्दू धर्म का एक पवित्र और मुख्य पर्व है इसे आस्था का महापर्व के रूप में भी जाना जाता है। 

2. छठ पूजा कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष के षष्ठी के दिन पड़ता है। और ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार यह सामान्यतः अक्टूबर या नवंबर महीने में मनाया जाता है। 

3. छठ पर्व को मुख्य तौर पर भारत की उतरी राज्य बिहार, झारखण्ड, और उत्तरप्रदेश में मनाया जाता है। इसे भारत के अलावा नेपाल और मारीशस जैसे देशों में भी मनाया जाता है। 

4.  छठ पूजा साल में दो बार मनाई जाती है एक चैत्र माह में और दूसरा कार्तिक माह में मनाया जाता है। 

5. छठ पूजा कुल चार दिनों का पर्व है और इसकी शुरुआत नहाय-खाय से होती है और खरना, संध्या अर्ध्य और सुबह अर्ध्य के बाद इसका समापन हो जाता है।

6. छठ पूजा के रूप में भगवान सूर्य और छठ माता की विशेष पूजा आराधना की जाती है इस दौरान व्रती पुरे 36 घंटे का उपवास रखती है।

7. छठ पूजा में कच्चे दूध और जल से ढलते सूर्य और उगते सूर्य को अर्ध्य दिया जाता है। 

8. ऐसी मान्यता है की छठ माता संतान की रक्षा करती है छठ पूजा हर माता के द्वारा अपनी संतान की रक्षा, और लम्बी आयु के लिए करती है। 

9. यह पर्व पुरुष या महिला किसी के द्वारा भी किया जा सकता है। 

10. छठ पूजा में पारम्परिक प्रसाद के रूप में ठेकुआ काफी प्रसिद्ध है। 

10 Lines on Chhath Puja in English

1. Chhath Puja is a holy and main festival of Hindu religion, it is also known as Mahaparva of Faith.

2. Chhath Puja falls on the sixth day of Shukla Paksha of Kartik month. And according to the Gregorian calendar it is generally celebrated in the month of October or November.

3. Chhath festival is mainly celebrated in the northern states of India, Bihar, Jharkhand, and Uttar Pradesh. Apart from India, it is also celebrated in countries like Nepal and Mauritius.

4. Chhath Puja is celebrated twice a year, one in Chaitra month and the other in Kartik month.

5. Chhath Puja is a festival of four days and it starts with Nahay-Khay and ends after Kharna, Sandhya Ardhya and Morning Ardhya.

6. Special worship of Lord Surya and Chhath Mata is done in the form of Chhath Puja, during which the Vrati fasts for a full 36 hours.

7. In Chhath Puja, Ardhya is offered to the setting sun and the rising sun with raw milk and water.

8. It is believed that Chhath Mata protects the children, Chhath Puja is performed by every mother for the protection of her children and for long life.

9. This festival can be performed by any man or woman.

10. Thekua is very famous in the form of traditional prasad in Chhath Puja.

FAQs –

1. छठ पूजा 2021 में कब है?

Ans: इस साल छठ पूजा 8 नवंबर को नहाय खाय के साथ शुरू होगी और खरना, संध्या अर्ध्य, सुबह अर्ध्य के साथ 11 नवंबर को इसका समापन हो जायेगा।

2. छठ माता कौन है?

Ans: भगवान सूर्यदेव की बहन है छठ माता

इन्हे भी पढ़े :-

आशा करता हूँ आपको ये लेख छठ पूजा पर निबंध 10 लाइन (10 Lines on Chhath Puja in Hindi) अच्छा और ज्ञानवर्धक लगा होगा इसे आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे, किसी भी प्रकार का सवाल, सुझाव आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है, धन्यवाद !

Leave a Reply

error: Content is protected !!