मोबाइल फोन पर निबंध | Essay on Mobile Phone in Hindi

वर्तमान समय में मोबाइल फोन हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा बन गया है। अब परिस्तिथि ऐसी बन गयी है हम और आप मोबाइल फोन के बिना जीवन जीने की कल्पना भी नहीं कर सकते। मोबाइल फ़ोन ने हमारे जीवन को आसान बना दिया है जहाँ एक ओर मोबाइल के बहुत सारे लाभ है तो वही इसका दुरूपयोग भी आजकल खूब हो रहा है। आज के इस लेख में मैं आपको मोबाइल फोन पर निबंध (Mobile Phone essay in Hindi) लिखने के लिए बताने जा रहा हूँ। जो की पढ़ने वाले छात्रों के काम आएगा। 

मोबाइल क्या है?

मोबाइल फोन (Mobile Phone) एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जिसे लम्बी दुरी में वॉइस कॉल के लिए उपयोग  किया जाता है। इसे मोबाइल फोन के अलावा कई अन्य नामो जैसे की सेल फोन, सेलुलर फोन, सेल, वायरलेस फोन इत्यादि नामो से भी बुलाया जाता है। वर्तमान समय इसके जगह अब स्मार्ट फ़ोन ने ले लिया है।  

essay on mobile phone in hindi
essay on mobile phone in hindi

शुरू के समय मोबाइल फोन से सिर्फ वॉइस कॉल ही किया जा सकता था। पर अब ऐसा नहीं है अब आप स्मार्ट फ़ोन से वॉइस कॉल के अलावा वीडियो कॉल, मैसेज कर सकते है, फोटो ले सकते है, वीडियो देख सकते है औ इंटरनेट चला सकते है. और ये सब आप कही भी कभी भी कर सकते है।  

सबसे पहले वर्ष 1917 में रेडियो का अविष्कार हुआ, जो आगे चलकर मोबाइल फ़ोन के अविष्कार में मिल का पत्थर साबित हुई। मोबाइल रेडियो की मदद से तार के जरिये कनेक्ट कर लोग एक दूसरे से बात किया करते थे। और शुरुआत  समय के समय इसका उपयोग ज्यादातर वाहनों में संपर्क के लिए किया जाता था। 

वर्ष 1973 ईस्वी में दुनिया का पहला मोबाइल फोन बनाया गया जिसे मोटोरोला कंपनी ने बनाया। और इसे बनाने का श्रेय अमेरिका के इंजीनियर मार्टिन कूपर और John F. Mitchell को जाता है। मार्टिन कूपर पहले इंसान बने मोबाइल फोन कॉल करने वाले। 

साल 1983 ईस्वी में “DynaTAC 8000x” पहली मोबाइल फोन बनी जो की कमर्शियल रूप से बाजार में उपलब्ध थी। 

Mobile Phone essay in hindi 100 words

वर्तमान समय में मोबाइल हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन गया है। मोबाइल फोन का अविष्कार मोटोरोला कंपनी के द्वारा वर्ष 1973 में किया गया था। इसे इसे बनाने का श्रेय अमेरिका के दो इंजीनियर मार्टिन कूपर और John F. Mitchell को जाता है। अब तो स्तिथि ऐसी बन गयी है की मोबाइल के बिना जीवन जीने की कल्पना करना मानो जीवन में अंधकारमय होने के बराबर है।

और हो भी क्यों न बहुत सारा काम जो हमलोग मोबाइल के मदद से करते है। वास्तव में कहें तो मोबाइल ने हम सबों का जीवन आसान बना दिया है। अब आप आसानी से दुनिया में कही भी वॉइस कॉल, वीडियो कॉल, मैसेज, इत्यादि एक क्लिक के साथ कर सकते है। तस्वीरें ले सकते है, वीडियो, ऑडियो देख सुन सकते है, इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते है। 

मोबाइल फोन लाभ और हानि पर निबंध (Advantages and Disadvantages of Mobile Phone) 

मोबाइल फोन के लाभ

1. दूसरे से जुड़े रहे के लिए – मोबाइल का अविष्कार 20 वीं सदी के सबसे क्रांतिकारी अविष्कार में से एक है। ऐसे तो मोबाइल फोन के बहुत सारे लाभ है, जिनमे से एक है, अपने परिवार, रिश्तेदारों और दोस्तों इत्यादि से फोन कॉल, वीडियो कॉल, चैट इत्यादि कर आप आसानी से इन्हे दुनिया के किसी कोने से जुड़े रह सकते है।  

2. मनोरंजन के लिए – मोबाइल फ़ोन के जरिये अब आप कही भी कभी भी खुद तो एंटरटेन कर सकते है, आप अकेले कही यात्रा कर रहे है तो आप बोरियत महसूस नहीं करेंगे, आप आसानी से ऑडियो, वीडियो सुन देख सकते है, फोटो खींच सकते है। इंटरनेट के जरिये यूट्यूब चलाकर मनोरंजन कर सकते है। 

3. पढाई के लिए – शिक्षा में मोबाइल का उपयोग तो पहले से हो ही रहा था। पर वास्तव में इसका इस्तेमाल तब आया जब से Covid-19 महामारी पूरी दुनिया में फैल गया। स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, कोचिंग संस्थान इत्यादि बंद होने के कारण बच्चों की पढाई लिखे बाधित होने लगी। ऐसे में इन सभी संस्थान के टीचर्स ने बच्चो को ऑनलाइन पढ़ना शुरू किया, तो आप समझ सकते है मोबाइल फ़ोन कितना उपगोगी है।

4. बैंकिंग सुविधाओं के लिए – मोबाइल बैंकिंग का नाम तो आपने सुना ही होगा, मोबाइल फोन के जरिये आप बैंकिंग सुविधाओं का इस्तेमाल अपने मुताबिक कही भी कर सकते है। आप आसानी से अपने लोगो को मोबाइल बैंकिंग के जरिये पैसे भेज सकते हो, अपना अकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हो। इसके अलावा आप कई अन्य तरह के ट्रांसक्शन्स के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते है जैसे की बस, ट्रेन, हवाई यात्रा के लिए टिकट बुक करना इत्यादि।     

5. सोशल मीडिया चलाने के लिए – ऐसे तो सोशल मीडिया आप लैपटॉप, कंप्यूटर में भी इस्तेमाल कर सकते है, पर आप लैपटॉप, कंप्यूटर को हमेशा साथ नहीं ले जा सकते है मोबाइल का साइज छोटा होने के कारण आप इसे कही भी साथ ले जा सकते है। और अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स जैसे की फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, व्हाट्सअप इत्यादि को इस्तेमाल कर सकते है। इसके साथ-साथ अगर आप कही अनजान जगह पर जा रहे हो तो आप गूगल मैप्स के जरिये अपनी यात्रा को आसान बना सकते है।

मोबाइल फोन के हानि 

1. समय की बर्बादी – आपने अपने आस पास लोगो को देखा होगा लोग घंटो-घंटो मोबाइल में समय बर्बाद करते रहे है। आलतू- फालतू  के यूट्यूब वीडियोस, शार्ट वीडियोस, सोशल मीडिया को चलाते रहते है। जो की धीरे धीरे लत में बदल जाती है। और काफी समय की बर्बादी होती है।

2. दुर्घटना घटने  की संभावना – कई लोगो को तो मैंने अक्सर देखा है की बाइक या कार चलाते वक्त भी मोबाइल का इस्तेमाल करते रते है। जिससे दुर्घटना घटने की सम्भावना ज्यादा हो जाती है। और कई लोग एक्सीडेंट होकर अपनी और अपने परिवार की जिंदगी बर्बाद कर बैठते है। 

4. स्वास्थ पर बुरा प्रभाव – अत्यधिक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने के कारण, इसका स्वास्थ पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता है। लोग आजकल अपने दोस्तों, सगे सम्बन्धियों से घंटो मोबाइल पर बात करते रहते है, इससे कैंसर जैसे घातक बीमारी हो सकती है, छात्रों में एकाग्रता की कमी देखी जा रही है। इसके अलावा सोशल मीडिया पर अधिक समय व्यतीत करने के कारण लोग अब एक दूसरे मिलना-जुलना कम पसंद करने लगे है। 

5. पैसे का खर्चा – लोग दिखावा करने के चक्कर में हर छह महीने, एक साल पर नया मोबाइल खरीदते है। कई लोग तो इस चक्कर में काफी महंगे मोबाइल भी खरीदते है। जिससे फिजूलखर्जी बढ़ जाती है।  

6. तलाक होने की वजह – मोबाइल फोन का हद से ज्यादा इस्तेमाल करने के कारण आजकल विवाहित जोड़े एक दूसरे को समय नहीं दे पा रहे है। जो की आजकल तलाक का वजह बन रहा है।  

निष्कर्ष – भले ही मोबाइल फोन के आ जाने से हमें काफी सहूलियत हुई है। सुविधा बढ़ी है पर हमें मोबाइल फोन का इस्तेमाल जरुरत के अनुसार ही करना चाहिए। मोबाइल पर समय की बर्बादी करने से बचिए, घर से बाहर निकलिए लोगो से मिलिए जुलिये, बाते कीजिये, मोबाइल पर गेम खेलने के वजाय बाहर मैदान में जाकर अपने पसंदीदा गेम्स खेलिए। हाँ मोबाइल का भी इस्तेमाल कीजिये पर एक सिमा तक।

FAQs –

Q. मोबाइल फोन का अविष्कार वर्ष

Ans: वर्ष 1973 ईस्वी में

Q. पहला कमर्शियल मोबाइल फोन कब बनाया गया था?

Ans: वर्ष 1983 ईस्वी में

Q. मोबाइल फोन कॉल करने वाले पहले इंसान कौन है?

Ans: मार्टिन कूपर

Q. मोबाइल फोन का अविष्कार किस कंपनी के द्वारा किया गया था?

Ans: मोटोरोला

मोबाइल फोन के अविष्कारक कौन है

Ans: मार्टिन कूपर

Q. भारत में मोबाइल फोन सेवा का शुरुआत कब हुआ?

Ans: वर्ष 1994 ईस्वी से

Q. पहला कमर्शियल मोबाइल फोन का नाम क्या था

Ans: DynaTAC 8000x

तो आज के इस आर्टिकल Essay on Mobile Phone in Hindi के माध्यम से आपने मोबाइल फोन का इतिहास के बारे में जाना, साथ में मोबाइल के क्या लाभ है एवं इसके हानि क्या है ये भी जाना, इसे आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करें, किसी भी प्रकार का सवाल, सुझाव आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है धन्यवाद!

इन्हे भी पढ़े :-

Leave a Reply

error: Content is protected !!