MBA Full Form in Hindi | MBA कोर्स क्या है और कैसे करें

आपने भी कभी न कभी एमबीए (MBA) कोर्स के बारे में जरूर सुना होगा। ये कोर्स वैसे छात्रों के लिए लाभदायक है जो बिज़नेस मैनेजमेंट में अपना करियर बनाना चाहते है। MBA पूरी दुनिया में एक बहुत ही पॉपुलर पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स है। दुनिया के कई मल्टीनेशनल कंपनियां हर एक साल लाखों एमबीए ग्रेजुएट्स को अपनी कंपनी में Hire करती है। 

एमबीए एक बेहतर करियर ऑप्शन के रूप में देखा जाता है। हर एक साल लाखो छात्र एमबीए में एडमिशन लेते है। एमबीए कोर्स का duration दो साल का होता है। और भारत के टॉप एमबीए कॉलेज में एडमिशन के लिए आपको इसके एंट्रेंस एग्जाम जैसे की Cat, Xat, Mat इत्यादि क्वालीफाई करना होगा। 

अगर आप एमबीए के बारे में अच्छे तरीके से जानना चाहते है तो इस आर्टिकल के अंत तक बने रहे आप इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे की MBA Full Form in Hindi क्या होता है। MBA क्या है, भारत में टॉप MBA Colleges कौन कौन से है इत्यादि ये सभी चीजे जान पाएंगे। 

MBA क्या है?

MBA (Master Of Business Administration) कोर्स बिज़नेस मैनेजमेंट और एडमिनिस्ट्रेशन में एक पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जो सामान्यतः दो सालो का होता है। ये छात्रों को बिज़नेस आर्गेनाईजेशन चलाने के लिए नॉलेज और ट्रेनिंग दोनों प्रदान करता है। इस डिग्री कोर्स के दौरान छात्रों को बिज़नेस से सम्बंधित ज्ञान जैसे की फाइनेंसियल मैनेजमेंट, मार्केटिंग मैनेजमेंट, ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, एकाउंटिंग, लीडरशिप स्किल, बिज़नेस कम्युनिकेशन इत्यादि की नॉलेज और ट्रेनिंग दी जाती है। 

mba full form in hindi
mba full form in hindi

दुनिया का पहला एमबीए डिग्री कोर्स की शुरुआत अमेरिका के हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल में वर्ष 1908 ईस्वी में हुई थी। 

MBA Full Form in Hindi

MBA का Full Form “Master Of Business Administration” होता है। और जिसे हिंदी में “व्यवसाय प्रबंध में स्नातकोत्तर” कहा जाता है।

एमबीए करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

MBA कोर्स में एडमिशन पाने के लिए अभ्यर्थी को किसी भी विषय में किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या संस्थान से न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक के साथ ग्रेजुएशन पास होना अनिवार्य है। SC, ST, OBC के लिए 5 प्रतिशत अंक की छूट होती है। चुकी ये एक मास्टर डिग्री कोर्स है तो इसे कोई भी छात्र तब ही कर सकता है जब वो स्नातक (Graduate) हो। 

अगर आप भारत के टॉप एमबीए कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है तो आपको इसके कुछ एंट्रेंस टेस्ट जैसे की CAT, XAT, MAT इत्यादि में अच्छे स्कोर से पास करना होगा तभी आप भारत के टॉप एमबीए कॉलेज जैसे की आईआईएम (IIM), FMS Delhi, XLRI Jamshedpur इत्यादि में एडमिशन ले पाएंगे। 

MBA Courses List 

आप निचे दिए गए सभी कोर्सेज में किसी भी स्ट्रीम से एमबीए कर अपना बेहतर करियर बना सकते है। 

  • MBA in Finance 
  • Marketing Management
  • Human Resource Management
  • Rural Management
  • International Business
  • MBA in Information Technology
  • MBA in Event Management
  • Business Analytics
  • Supply Chain
  • Agri Business Management
  • Health Care Management
  • MBA in Event Management

ये भी पढ़े –

एमबीए की फीस कितनी है?

एमबीए कोर्स की फीस डिपेंड करता है की आप एमबीए सरकारी कॉलेज से कर रहे है या प्राइवेट कॉलेज या ऑटोनोमस कॉलेज से। सामान्यतः सरकारी कॉलेज में एमबीए की फीस प्राइवेट कॉलेज की तुलना में बहुत ही कम होती है। अगर आप भारत या किसी अन्य देश के टॉप बिज़नेस स्कूल से एमबीए करना चाहते है तो इसकी फीस 10 लाख से लेकर 30 लाख तक हो सकती है।

इसलिए कोशिश करे की एमबीए का एंट्रेंस एग्जाम अच्छे परसेंटाइल से पास करे और गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन ले, वहॉ पार आप काफी कम फीस में एमबीए कोर्स कर सकेंगे।

एमबीए करने के बाद कौन सी जॉब मिलती है?

एमबीए कोर्स करने के बाद कौन सा सेक्टर में जॉब मिलेगी ये इस बात पर निर्भर करता है की आपने किस स्ट्रीम से एमबीए किया है। जैसे की कुछ फेमस स्ट्रीम है Marketing, Finance, Human Resource, International Business इत्यादि। आपने जिस किसी स्ट्रीम एमबीए किया है उसके अनुसार आपकी जॉब मार्केटिंग, सेल्स, फाइनेंस, ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर, इन्वेस्टमेंट बैंकर इत्यादि में लग सकती है। 

MBA की सैलरी कितनी होती है?

एमबीए कोर्स करने के बाद हर छात्र की चिंता यही रहती है की नौकरी कहाँ मिलेगी और कितनी पैकेज की मिलेगी। अगर आप भारत के टॉप एमबीए बिज़नेस स्कूल, आईआईएम जैसे संस्थानों से MBA करते है। तो कोर्स के अंतिम साल कॉलेज मे कई भारतीय या अंतराष्ट्रीय कम्पनियां कैंपस प्लेसमेंट के लिए आती है।

और छात्रों को इंटरव्यू के परफॉरमेंस के आधार पर रिक्रूट और सैलरी तय करती है। ये सैलरी 15 लाख से लेकर 50 लाख या उससे भी अधिक हो सकती है। धीरे धीरे एक्सपीरियंस बढ़ने के साथ सैलरी में भी इजाफा होता है। यदि आपने सामान्य कॉलेज से एमबीए किया है तो आपकी सैलरी 3 लाख से लेकर 10 लाख तक वार्षिक हो सकती है। 

MBA करने के फायदे

एमबीए कोर्स करने के निम्लिखित फायदे हो सकते है। 

  • एमबीए करने के बाद आपको कई कंपनियां अच्छी सैलरी पर Hire करती है। 
  • एमबीए कोर्स छात्रों में मैनेजमेंट स्किल्स डेवेलोप करता है। 
  • एमबीए कोर्स का एक फायदा ये है की ये आपमें पर्सनालिटी डेवलपमेंट, लीडरशिप स्किल्स, सॉफ्ट स्किल्स इत्यादि डेवेलप करने पर जोर देता है। 
  • एमबीए करने के बाद आप बिज़नेस से सम्बंधित नॉलेज सिख पाते है जिसका इस्तेमाल आप खुद का बिज़नेस शुरू करने में भी कर सकते है। 
  • एमबीए करने के बाद बेहतर करियर के ऑप्शन मिलते है। कई तरह के फील्ड जैसे की मार्केटिंग, सेल्स, फाइनेंस, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी इत्यादि में आप अपना करियर बना सकते है। 

भारत में टॉप MBA Colleges 

भारत में टॉप एमबीए कॉलेज निम्नलिखित है। 

  • IIM Ahmedabad – Indian Institute of Management
  • IIM Bangalore – Indian Institute of Management
  • IIIM Calcutta – Indian Institute of Management
  • IIM Kozhikode – Indian Institute of Management
  • Department of Management Studies, IIT Delhi
  • IIM Indore – Indian Institute of Management
  • IIM Lucknow – Indian Institute of Management
  • XLRI: Xavier School of Management, Jamshedpur
  • FMS Delhi – Faculty of Management Studies University of Delhi
  • MDI Gurgaon – Management Development Institute

FAQs –

Q. MBA कितने साल का है?

एमबीए दो साल का होता है। जिसमे छह-छह माह के चार सेमेस्टर होते है।

Q. Full Form of MBA in Hindi

MBA का फुल फॉर्म “Master Of Business Administration” होता है। जिसे हिंदी में “व्यवसाय प्रबंध में स्नातकोत्तर” कहा जाता है।

इन्हें भी पढ़े –

आशा करता हूँ आपको ये आर्टिकल MBA Full Form in Hindi अच्छा और ज्ञानवर्धक लगा होगा, इस लेख के माध्यम से आप एमबीए के बारे में अच्छे से जान गए होंगे, इसे आप अपने दोस्तों और सोशल मीडिया जैसे की Facebook, Twitter इत्यादि पर भी शेयर जरूर करें, किसी भी प्रकार का सवाल, सुझाव आप कमेंट में पूछ सकते है, धन्यवाद!

Leave a Reply

error: Content is protected !!