गूगल का आविष्कार कब और किसने किया था?

दोस्तों आज के समय में दुनिया इंटरनेट के बिना एक पल भी सुचारू रूप से संचालित नहीं की जा सकती है अगर 2 घंटे के लिए दुनिया की इंटरनेट सेवा बंद हो जाए तो आप समझ जाइए कि अरबों रुपए नुकसान होगा तो आज हम ऐसी दुनिया की कल्पना भी नहीं कर सकते जहाँ इंटरनेट ना हो। 

गूगल का नाम आज की तारीख में भला कौन नहीं जानता होगा शायद ही कोई इंटरनेट यूजर हो जिसे गूगल के बारे में जानकारी नहीं होगी आज आप हम सभी लोग अपने मोबाइल में गूगल का इस्तेमाल करते हैं गूगल क्या है? गूगल एक ऑनलाइन इंटरनेट प्रदाता सेवा है कंपनी है गूगल की शुरुआत एक ऑनलाइन सर्च इंजन के तौर पर हुई थी और आज ये सर्च इंजन के अलावा कई सारे सर्विसेज प्रदान करती है। जिसके विस्तार से चर्चा निचे की गई है। 

दोस्तों क्या आप जानते हैं  की गूगल का आविष्कार कब हुआ और किसके द्वारा किया गया अगर आप ये नहीं जानते है तो इस लेख गूगल का आविष्कार कब और किसने किया था (Google Ka Avishkar Kab Aur Kisne Kiya) को अंत तक जरूर पढ़े तो आइये जानते है। 

Google क्या है?

google ka avishkar kisne kiya
google ka avishkar kisne kiya

गूगल (Google) एक अमेरिकन और दुनिया की सबसे प्रमुख Multinational Technology Company है। इसकी स्थापना के कई सालों तक ये सिर्फ एक सर्च इंजन तक ही सिमित थीये इंटरनेट से सम्बंधित सेवाएं जैसे की Cloud Computing (Data Storage), Online Advertising सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर इत्यादि के क्षेत्र में काम करती है।  

विश्व में जब भी इंटरनेट की दुनिया में अविष्कारों की बात होगी तो गूगल की बात ना हो ऐसा हो नहीं सकता है इसका प्रमुख कारण है गूगल के अविष्कार ने पुरे इंटरनेट दुनिया को बदल कर ही रख दिया। ये दुनिया की सबसे बड़ी सर्च इंजन कंपनी है। इसके जरिये आप कोई सी भी जानकारी दुनिया के किसी भी कोने से आसानी से प्राप्त कर सकते है। “Alphabet” Google की पैरेंट कंपनी है। 

आज की तारीख में हममे से कई लोग जानते होंगे की गूगल सिर्फ एक सर्च इंजन कंपनी तक ही सिमित है तो आप बिलकुल गलत है मेरे भाई, बहन जानकारी के लिए आपको बता दूँ वर्तमान समय में Google एक Multinational Technology Company है।

Android जो की दुनिया में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला मोबाइल Operating System है ये भी गूगल का ही प्रोडक्ट है इसके अलावा Google के कई सारे प्रोडक्ट्स है जैसे की Youtube, Gmail, Google Document, Google Play Store, Google pay, Google Assistent, Google Chrome इत्यादि। 

गूगल का अविष्कार किसने किया? (Google Ka Aavishkar Kisne Kiya)

गूगल (Google) का आविष्कार Sergey Brin और Larry Page के द्वारा किया गया था जो अमेरिका के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई किया करते थे. दोनों ने कंप्यूटर साइंस में पीएचडी की डिग्री हासिल की है इसका नाम Google, एक वर्ड ‘Googol’ से प्रेरित था जिसका मतलब होता है ‘एक बहुत बड़ी संख्या’ इसके पीछे फाउंडर्स का उद्देश्य बड़ी मात्रा में जानकारी उपलब्ध कराना था। 

गूगल का आविष्कार किया गया तो इसमें कोडिंग का काम Scott Hassan के द्वारा किया गया था लेकिन उन्होंने गूगल कंपनी को बीच में ही छोड़ दिया और 2006 में उन्होंने Willow Garage नामक कंपनी की स्थापना की. इसलिए गूगल का पूरा प्रोजेक्ट Sergey Brin और Larry Page ने पूरा किया। 

Google का अविष्कार कब हुआ था?

15 सितम्बर 1997 में www.google.com डोमेन Name को ख़रीदा गया था उसके बाद Larry Page और Sergey Brin ने 4 सितंबर 1998 में गूगल को कंपनी के रूप में स्थापित किया। लैरी पेज ने गूगल कंपनी की शुरुआत करने के लिए अपने फैमिली और दोस्तों से ₹40000 का कर्ज लिया था ताकि वह गूगल कंपनी की स्थापना कर सके. आज के समय में गूगल की मार्केट वैल्यू एक ट्रिलियन डॉलर से भी अधिक है भारतीय रुपए में इसकी कीमत 7,75,00,00,00,00,000.00 है। 

दोस्तों जब गूगल का आविष्कार हुआ तो उस समय अनेकों प्रकार के सर्च इंजन थे लेकिन उन सर्च इंजन पर अगर कोई भी व्यक्ति किसी भी चीज के बारे में जानकारी हासिल करना चाहता था उसका सर्च रिजल्ट उतना अच्छा नहीं हो पा रहा था जितना अच्छा गूगल का होता था।

अब आपके मन मे सवाल आएगा कि गूगल पर सर्च रिजल्ट अच्छा होने का कारण क्या था तो मैं आपको बता दूं कि जब कंपनी की स्थापना की गई तो कंपनी के संस्थापक लैरी पेज ने Backlink नाम का features गूगल में add किया। इसका मतलब ये था की जिस किसी वेबसाइट के पास क्वालिटी Backlink होगा वही website गूगल में Rank करेगी।

इसी के कारण जब आप गूगल पर किसी भी विषय के बारे में सर्च करते हैं तो सर्च से जुड़ा हुआ सही प्रकार का रिजल्ट आपके सामने आ जाता है. यहीं से गूगल की सफलता की कहानी की शुरुआत होती है और आज आप सभी लोग जानते हैं कि जितने भी लोग वेबसाइट से जुड़ा हुआ काम करते हैं उनकी वेबसाइट अगर Rank कर रही है तो उसके पीछे एक वजह बैकलिंक (Backlinks) भी होती है। 

ये आईडिया गूगल के फाउंडर लैरी पेज का था इस तरीके को PageRank नाम दिया गया. लेरी पेज ने इस आईडिया को अपने साथी अपने साथी स्कोट के साथ शेयर किया इसके बाद स्कोट ने इस आईडिया पर काम करना शुरू किया। 

बैकलिंक्स के आधार पर सर्च रिजल्ट्स दिखाने के कारण गूगल का पहले नाम BackRub रखा गया था बाद में इस आईडिया पर कई अन्य सर्च इंजन विकसित किये गए जिनमे चीन की सर्च इंजन Baidu भी शामिल है। 

इससे पहले गूगल में रैंकिंग कीवर्ड (Keyword) के अनुसार मिलती थी मतलब जिस पेज पर सर्च किये जाने वाले कीवर्ड की मात्रा अधिक हुआ करती थी वो पेज गूगल पर रैंक किया करती थी इससे यूजर को सही रिजल्ट्स नहीं मिल पाते थे। 

गूगल का भारत के साथ क्या कनेक्शन है

आज के समय में दुनिया के अधिकांश देशों में गूगल का इस्तेमाल किया जाता है अगर हम भारत का गूगल के साथ संबंध क्या है उसके बारे में चर्चा करें तो मैं आपको बता दूं कि गूगल के Ceo, Sunder Pichai जो इस कंपनी के प्रमुख Shareholder में से एक है वो भारत के तमिलनाडु के रहने वाले है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि गूगल का भारत के साथ संबंध गहरा है। 

निष्कर्ष –

उम्मीद करता हूँ आपको ये आर्टिकल गूगल का अविष्कार किसने किया और कब हुआ? अच्छा और ज्ञानवर्धक लगा होगा आज आप इस लेख के माध्यम से गूगल के बारे में अच्छे से जान गए होंगे इस लेख को स्नेह और प्यार दिखाने के लिए आप इसे अपने दोस्तों के साथ साथ इसे सोशल मीडिया साइट्स पर भी जरूर शेयर करें किसी भी प्रकार का सवाल, सुझाव आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है धन्यवाद!

FAQs –

Q. गूगल का आविष्कार कब और किसने किया था?

Ans – गूगल का अविष्कार यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका के स्टैनफर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले दो छात्र Larry Page एवं  Sergey Brin के द्वारा 4 सितम्बर 1998 ईस्वी को किया गया था।

Q. गूगल का फुल फॉर्म क्या होता है??

Ans – Google का फुल फॉर्म Global Organization Of Oriented Group Language Of Earth होता है।

Q. गूगल कौन से देश का है?

Ans – गूगल एक अमेरिकन मल्टीनेशनल टेक्नोलॉजी कंपनी है।

Q. गूगल का मुख्यालय कहाँ है?

Ans – आज के समय में गूगल का मुख्यालय अमेरिका के माउंटेन व्यू, कैलिफ़ोर्निया में स्तिथ है।

Q. गूगल का पहला नाम क्या था?

Ans – गूगल को शुरुआत समय में BackRub के नाम से जाना जाता था और कुछ ही सालों के बाद इसका नाम बदलकर गूगल कर दिया गया।

Read More –

नमस्कार दोस्तों, मैं Rahul Niti एक Professional Blogger हूँ और इस ब्लॉग का Founder, Author हूँ. इस ब्लॉग पर मैं बहुत से विषयों पर लिखता हूँ और अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से उपयोगी और नईं-नईं जानकारी शेयर करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!